मुकेश सिंह मोंटी - डॉ राजेंद्र प्रसाद की जन्मजयंती पर अमीनाबाद इंटर कॉलेज में आयोजित हुआ कार्य्रकम

देश के प्रथम राष्ट्रपति माननीय डॉ राजेंद्र प्रसाद की जन्मजयंती के अवसर पर उन्हें समस्त देशवासियों द्वारा याद किया जा रहा है. इसी क्रम में अमीनाबाद इंटर कॉलेज में हुए एक कार्यक्रम के अंतर्गत स्थानीय पार्षद मुकेश सिंह मोंटी के साथ साथ भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारी माननीय मंत्री बृजेश पाठक, प्रमुख सचिव न्याय दिनेश सिंह भी सम्मिलित हुए, जहां उन्होंने विद्यार्थियों के मध्य डॉ राजेंद्र प्रसाद के जीवन चित्र को उकेरा. मंत्री बृजेश पाठक ने बताया कि भारतीय संविधान में अपना अग्रणी योगदान देने वाले देश के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद को हम श्रृद्धा सुमन अर्पण करते हैं और आज जो समानता, स्वतंत्रता और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का अधिकार हमें मिला है, उसके लिए हम ससम्मान उनका धन्यवाद अर्पण करते हैं.

इस मौके पर कॉलेज में छात्रों ने बेहद प्रभावशाली वक्तव्य रखते हुए डॉ राजेंद्र प्रसाद के जीवन से मार्गदर्शन प्राप्त किया. साथ ही कार्यक्रम में विद्यार्थियों को पुरस्कृत भी किया गया. ज्ञात हो कि देश के पहले राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद जन्म बिहार के जीरादेई में 3 दिसंबर 1884 को हुआ था. बाल्यकाल से ही प्रखर बुद्धिवान राजेन्द्र बाबू पढ़ाई में काफी तेज थे और मात्र 18 वर्ष की आयु में उन्होंने कोलकाता विश्वविद्यालय की प्रवेश परीक्षा प्रथम स्थान से पास की और फिर कोलकाता के प्रसिद्ध प्रेसीडेंसी कॉलेज में दाखिला लेकर लॉ के क्षेत्र में डॉक्टरेट की उपाधि भी प्राप्त की. वकालत के साथ साथ उन्होंने भारतीय स्वाधीनता आंदोलन में भी बढ़चढ़कर भागीदारी किउ और साथ ही भारतीय संविधान के निर्माण में उनका योगदान अविस्मरणीय है.



क्या यह आपके लिए प्रासंगिक है? मेसेज छोड़ें.