मुकेश सिंह मोंटी – प्रकाश के त्यौहार दीपावली से करें जीवन को रोशन

दीवाली, यानि प्रकाश और रोशनी का पर्व. आप में से हर कोई अपने आप में एक प्रकाश ही तो है, जो अगर खुद में ज्ञान, समझ, लोकहित की भावना का उदय कर ले, तो उसकी दमक दूर दूर तक जाती है और हर दिन दिवाली हो जाता है. समस्त भारत में मनाया जाने वाला यह त्यौहार घुल मिल जाने का उत्सव है, हर ओर दिवाली की शुभ कामनाएं, मिठाइयों की मिठास और अतीत को बिसरा कर सब नए सिरे से प्रारंभ कर लेने की एक अनूठी परंपरा...बस यही सब है दिवाली के इस अद्भुत त्यौहार की खासियत.

हर त्यौहार हमें नवचेतना और आत्म जाग्रति का एक संदेश देता है. ठीक ऐसे ही दीपावली हमें सिखाती है कि मात्र एक दिया जला रोशनी फैलाना पर्याप्त नहीं है, अपितु हमें स्वयं के साथ साथ अपने आस पास बसे हर वर्ग को प्रफुल्लित और प्रकाशित करना होगा. खुशियों को हर ओर बांटना होगा और जिस दिन खुशियों का, मुस्कुराहटों का, प्रकाश का यह आबंटन समान रूप से होने लगेगा, उस दिन आपकी, मेरी, हम सभी की दिवाली वास्तव में जगमगा उठेगी और हम सभी का जीवन राममय हो जायेगा.


मैं हार्दिक रूप से यह अभिलाषा करता हूँ कि प्रकाश के प्रतीक इस पावन पर्व पर आप सभी की जिंदगी रोशन रहे, समृद्धि से आपका घर-द्वार सुसज्जित हो और निज-उन्नति के मार्ग पर चलते हुए आप समाज को प्रगति की ओर ले जायें. इन्हीं शुभकामनाओं के साथ मेरे और समस्त भाजपा परिवार की ओर से आप सभी को धनतेरस, दीपावली, गोवर्धन पूजा, भाईदूज और छठ पर्व की कोटि कोटि शुभकामनाएं.

क्या यह आपके लिए प्रासंगिक है? मेसेज छोड़ें.